Recents in Beach

Bharat Mein Kul Antarrastriye Stadium Kitne Hain 2021

Bharat Mein Kull Antarrastriye Stadium Kitne Hain : भारत का क्रिकेट से रिश्ता मानो वर्षो पुराना है। लोगो का क्रिकेट के पति भाव ही विभिन्न प्रकार का है। यह कहना भी गलत नहीं होगा दुनिया भर में लोगो को क्रिकर्ट के प्रति एक अलग ही प्रेम उत्पन्न है। जो क्रिकेट को इनके भावो से अच्छे से जोड़ पता है आज भी टेलेविज़न पे क्रिकेट का आना भारत वर्ष की जनता में एक प्रेम और उत्सा का मनोभाव पैदा करता है।  भारत में कुल कितने क्रिकेट स्टेडियम है। 

भारत में क्रिकेट का इतिहास बहुत पुराना है। अब इसका जुड़ना निजी जीवन का हो चूका है।  भारतीय क्रिकेट टीम भारतीय  जनता द्वारा खूब सराही जाती रही है।  भारत में विभिन प्रकार है स्पोर्ट्स खेले जाते है जैसे - बैडमिंटन , फुटबॉल , टेबल टेनिस , टेनिस, कबड्डी , स्विमिंग ,बास्केटबॉल , चैस, हॉकी, रेसलिंग, बॉक्सिंग, वॉलीबॉल, आदि  बहुत प्रकार के खेलो का भारत से और भारत के लोगो से एक प्यारा रिश्ता है।  

Bharat Mein Kull Antarrastriye Stadium Kitne Hai

Bharat Mein Kul Antarrastriye Stadium Kitne Hai - भारत में कुल कितने क्रिकेट स्टेडियम है 2021

भारत में यू तो बहुत प्रकार के स्पोर्ट्स खेले जाते है। जो की आज की जेनरेशन को exercise और सुवास्थ शरीर होने का एक प्यारा अभियान प्राप्त करते है। खेलो का लोगो से जुड़ा होना उन्हें एक अच्छे मानसिक संतुलन से भी जोड़ता है। लोगो की आधी समस्याएँ खेलो से जुड़कर भी समाप्तः हो सकती है।  मनुष्य जीवन में हमे एक खेल से जुड़ा होना बहुत आवशयक सा है। जो हमे खेलो के प्रति रूचि पैदा करता है। इसका हम सबसे एहम कारण टेलेविज़न को मान सकते है जिससे हम हर तरह के स्पोर्ट्स गतिविधियो से बिना किसी रूकावट के घर बैठे जुड़ जाते है।  

भारत का स्पोर्ट्स से एक एहम नाता रहा है भारतीय स्कूल और कॉलेज में भी स्पोर्ट्स को बहुत एहम रूप से देखा  जाता है खासकर क्रिकेट के प्रति लोगो की एक अलग ही प्रिय भावना उत्पनन  है।  खेलो का राजा कहा जाने वाला स्पोर्ट्स अगर क्रिकेट को कहे तो इसमें कोई गलती नहीं होगी। खेलो में जो सबसे अपनी एक अलग और प्रिये पहचान बना चूका है वो क्रिकेट ही है। क्रिकेट को प्रॉपर तरीके से खलेने के लिए अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर भागदौड़ संभाली जाती है।  बड़े बड़े लोगो का इसमें रूचि का होना अनुवारिये है। क्रिकेट को खेलने के लिए खिलाड़िओ के साथ साथ एक बड़े और विशाल मैदान या स्टेडियम का होना बहुत आवश्यक है।  भारत में कुल कितने अंतर्राष्ट्रीय स्टेडियम है इसके बारे में हम आपको जानकारी देंगे। उसके लिए हमारे आर्टिकल को अच्छे से पढ़ना होगा।   

1. आंध्र प्रदेश 

आंध्र प्रदेश  में खुल 3 अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट स्टेडियम है इंदिरा प्रियदर्शिनी स्टेडियम [विशाखपटनम ], राजशेखर रेड्डी क्रिकेट स्टेडियम [विशाखापट्नम ],  इंदिरा गांधी स्टेडियम [विजयवाड़ा]

2. असम 

असम में कुल २ अनतर्राष्ट्रीय क्रिकेट स्टेडियम है। बारसपारा क्रिकेट स्टेडियम [ गुहाटी ] , नेहरू स्टेडियम [ गुहाटी ]

3. गोवा 

गोवा में कुल एक क्रिकेट स्टेडियम है।  फोटोराडा स्टेडियम ( मारगाओ )

4. बिहार

बिहार में भी कुल एक ही क्रिकेट स्टेडियम है। मोईन-उल -हक़ स्टेडियम (पटना)

5. हरियाणा 

हरियाणा में कुल एक स्टेडियम है। नहार सिंह स्टेडियम (फरीदाबाद) 

6. गुजरात 

गुजरात में कुल सिक्स क्रिकेट स्टेडियम है।सौराष्ट्र क्रिकेट एसोसिएशन स्टेडियम (राजकोट ), नरेंद्र मोदी स्टेडियम (अहमदाबाद ),३ माधव रओ सिंधिया क्रिकेट ग्राउंड (राजकोट ), मोती बाग़ स्टेडियम (बड़ोदरा ),आईपीएल स्पोर्ट्स काम्प्लेक्स ग्राउंड (बड़ोदरा )

7. हिमाचल प्रदेश 

हिमचाल प्रदेश क्रिकेट एसोसिएशन ग्राउंड( धर्मशला )

8. झारखंड 

झारखण्ड में कुल दो क्रिकेट स्टेडियम है। कीनन स्टेडियम (जमसदपुर ), जेएसीए इंटरनेशनल  क्रिकेट स्टेडियम ( रांची )

9. कर्नाटक

एम् चिन्ना स्वामी स्टेडियम (बेंगलुरु )

10. केरला  

केरला में तीन अनतर्राष्ट्रीय क्रिकेट स्टेडियम है। जवाहरलाल नेहरू स्टेडियम ( कोच्चि ), यूनिवर्सिटी स्टेडियम ( त्रिवंतपुरम ) , ग्रीन फील्ड इंटरनेशनल स्टेडियम ( त्रिवंतपुरम )

11. मध्य प्रदेश  

मध्य प्रदेश में कुल तीन अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट स्टेडियम है।  कप्तान रूप सींग स्टेडियम (ज्वलियार ), नेहरू स्टेडियम (इंदौर ), हलकार स्टेडियम ( इंदौर )

12. महाराष्ट्र  

महारष्ट्र में कुल  छे क्रिकेट स्टेडियम है अंतर्राष्ट्रीय जिमखाना ग्राउंड ( मुंबई), विदारव क्रिकेट एसोसिएशन ग्राउंड  (नागपुर), महाराष्ट्र क्रिकेट एसोसिएशन स्टेडियम (पुणे ), ब्रेबोर्न स्टेडियम (मुंबई ), वानखेड़े स्टेडियम (मुंबई ), नेहरू स्टेडियम ( पुणे )

13. पंजाब 

पंजाब में कुल तीन स्टेडियम गाँधी स्टेडियम ( जालन्दर ), पंजाब क्रिकेट असोसिएशन िए स बिंद्रा स्टेडियम ( मोहाली ), गांधी स्पोर्ट्स काम्प्लेक्स ग्राउंड (अमृतसर )

14.ओड़िसा 

बरबटी स्टेडियम (कटक )

15. राजस्थान 

राजस्थान में कुल २ क्रिकेट स्टेडियम है।  बरकततुल्लाखां  स्टेडियम (जोधपुर ), मानसिंघ स्टेडियम ( जयपुर )

16. तमिलनाडु 

तमिल नेदु में कुल २ क्रिकेट स्टेडियम है।  झव्हरलाल नेहरू स्टेडियम ( चेन्नई ), एम् ऐ चैबंदरं स्टेडियम (चेन्नई )

17. तेलंगना 

यहाँ दो अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट स्टेडियम है।  राजीव गांधी इंटरनेशनल स्टेडियम ( हैदराबाद ), लाल बहादुर शास्त्री स्टेडियम ( हैदराबाद ) 

18. पचिम बंगाल ; 

ईडन गार्डन स्टेडियम ( कोलकाता )

19. चण्डीगढ़ ; 

सेक्टर 16 स्टेडियम (चंडीगढ़ )

20. दिल्ली 

दिल्ली में कुल 2 अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट स्टेडियम है। जवाहरलाल नेहरू स्टेडियम, फ़िरोज़ शाह कोटला ग्राउंड (अरुणजीतली स्टेडियम )

21. जम्मू कश्मीर  

शेर इ कश्मीर स्टेडियम (श्रीनगर )

22. उत्तर प्रदेश 

Bharat Mein Kul Antarrastriye Stadium में उत्तर प्रदेश में कुल 5 अनतर्राष्ट्रीय ग्राउंड है। यूनिवर्सिटी स्टेडियम (लखनऊ ), ग्रीन पार्क स्टेडियम (कानपूर) , ग्रेटर नॉएडा स्टेडियम स्पोर्ट्स काम्प्लेक्स ग्राउंड ( ग्रेटर नॉएडा ), ऐ दे सिंह बाबू स्टेडियम (लखनऊ), भारत रतन अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट स्टेडियम (इकना स्टेडियम ) (लखनऊ )

ये भी पढ़े –

भारत में लगभग हर प्रदेश से क्रिकेट से रुचि जुडी है इससे यह पता चलता है कि लोगो का क्रिकेट के प्रति कितना मनोभाव है।  मेरी जिंदगी में भी क्रिकेट के एहम भूमिका रही है। में पुरे विश्वास से कह सकते हु की आपके बचपन का एक कोना कही न कही क्रिकेट खेल से जुड़ा होगा। खेल का हर मनुष्य के जीवन से जुड़ा होना आपको एक अच्छे वह कुशल सेहत का आभारी बना देता है। आपको जीवन की बिमारियों से लड़ने की एक अलग और विशाल शक्ति मिल जाते है।  

भारत में अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट के लाभ वा हानी 

क्रिकेट या कोई भी खेल जो आपके जीवन को एक नयी उम्मीद दे उससे आप अपने से कभी अलग न करे। आज कल के युवा को खेलो और cultural activities के प्रति इतनी रूचि है की वह अपनी शिक्षा पर पूरा ध्यान नहीं दे पाते जो सही मायने में ठीक तो नहीं है। खेलो का सहकुशल होना अपने तरीको से ठीक है। परन्तु पढ़ना भी उतनी ही जरुरी होना चहिये। 

पहले की तरह अब कुछ नहीं रहा है। यह कहना भी गलत नहीं है हमारे तुम्हारे बचपन में फर्क की एक विशाल सिमा है। आज ऑनलाइन , डिजिटल वर्ल्ड का होना भविष्य को सुधार तो रहा है लेकिन हमे बचपन के खेलो से उतना दूर भी करता जा रहा है। बच्चो का घर पर बैठे फोन , टेलेविज़न से जुड़ना इन्हे संस्कृति के प्रति सीमा का भाव दे रहा है। खेलो का शरीर के साथ जुड़ा होना बहुत जरुरी है। परन्तु ऑनलाइन स्पोर्ट्स सिर्फ दिमाग की गतिविधियों के साथ खेलना सिखाता है। सिर्फ मानसिक शरीर इससे जुड़ पता है और जो आंखों और दिमाग में घेरे में गुप्त राग भी पैदा करता है।  Bharat Mein Kul Antarrastriye Stadium Kitne Hai 

इसलिए खेलो का outdoor होना बहुत ज़रूरी है। क्रिकेट ही नहीं हर तरह का शारीरिक खेल आपको हर तरह चुस्त दुरुस्त रखता है इसलिए खेलो को  अपने जीवन का एहम हिस्सा बनिए। शिक्षा के साथ खेलो का होना भी उतना ही जरूरी और लाभदायक है। 

Conclusion 

तो दोस्तों यहाँ पर हमने आपको बताया कि भारत में कुल कितने क्रिकेट स्टेडियम है 2021 में। हमने आपको क्रिकेट से रिलेटेड भी कुछ जानकारी दी जिसमे बताया की इसके क्या लाभ और हानि होती है। आप भी अगर क्रिकेट खेल को खेलना पसंद करते हो और इससे जुडी जानकारी को जानना चाहते हो तो अधिक से अधिक लोगो को शेयर जरूर करे। 

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ