Kyc full form in hindi | केवाईसी क्या हैं KYC क्यों करवाना चाहिए

kyc full form in hindi: दोस्तों आप सभी लोग जानते हैं कि आज के टाइम पर केवाईसी कराना कितना जरूरी हो गया है अगर आप अपनी केवाईसी नहीं कराते तो आपके जो भी बैंक अकाउंट होता है या फिर आपकी कोई भी सिम होती है वह चालू नहीं हो पाती है तो kycआखिर क्यों करवानी पड़ती है। यहाँ पर जो केवाईसी क्या हैं और kyc full form in hindi है वो क्या होता है हम इन सभी चीज़ो के बारे में जानेगे। 

आप सभी लोगों ने केवाईसी का नाम जोक सुनाओ का जब आप किसी बैंक में जाते होंगे और वहां पर आपसे केवाईसी कराई जाती होगी आखिर क्यों कराई जाती है और अगर आप नहीं करवाते हैं आपका बैंक अकाउंट बंद भी कर दिया जाता है तो यह बहुत बड़ी समस्या है।  

अब तो ऑनलाइन भी फ्लिपकार्ट, अमेजॉन जैसी शॉपिंग की वेबसाइट होती है। उन पर भी आपका अकाउंट है और वहां से आप अपना पैसा ट्रांसफर करते रहते हैं। तो वहां भी आपको केवाईसी करवानी पड़ती है। अगर आप वहां पर केवाईसी नहीं करवाएंगे तो वहां पर आपका जो बैंक से आप पैसे को ट्रांसफर करते हैं तो उस पर भी रोक लगाई जा सकती है।

वैसे तो सभी लोगों को यहां पर केवाईसी करवाना बहुत जरूरी हो गया है और आखिर करवाने भी चाहिए तो ऐसा मैं क्यों बोला इसके बारे में भी मैं आपको आगे बताऊंगा साथ में आपको यह भी बताऊंगा कि केवाईसी क्या होता है।  kyc full form in hindi क्या है हर चीज की या पर आपको जानकारी मिलने वाली है। तो जिन लोगो ने अभी तक KYC नहीं कराया है वो जरूर जान ले इसके बारे में तो चलिए शुरू करते है। 

kyc full form in hindi

केवाईसी क्या हैं - kyc full form in hindi

{tocify} $title={Table of Contents}

आपको पहले यह जानना बहुत जरूरी है कि जो केवाईसी होती है वह ज्यादातर फाइनेंसियल संस्थानों के लिए की जाती है। यहां पर ग्राहक की पहचान होती है जिससे बैंक या फिर ऑनलाइन जो कि आप जहां पर ट्रांजैक्शन करते हैं उनको आप की सही जानकारी पता होती है। 

आप सभी लोगों को पहले की तो सभी चीजों के बारे में पता हो कि बैंकों से कैसे लोग पैसे को का घपला कर दिया करते थे और यहां पर बैंकों को बहुत ज्यादा नुकसान हुआ करता था। क्योंकि उनको सही जानकारी नहीं दी जाती थी जो भी वहां पर अपना अकाउंट खुलवा देता वह अपनी गलत जानकारी देकर अकाउंट को खुलवा लेता था और वहां पर गलत ट्रांजैक्शन भी हुआ करते थे। इसकी वजह से यहां पर किसी को लाना बहुत जरूरी था। 

जब से केवाईसी आया है तब से यहां पर जिसके भी अकाउंट बैंक में होते हैं उससे बैंक वालों को पता चलता है कि यह ग्राहक बिल्कुल सही है। इसका जो भी डॉक्यूमेंट है वह बिल्कुल ठीक है यहां पर यह कोई भी बीमारी नहीं कर सकता है अगर यह कोई भी हरकत करता भी है। तो यहां पर उसको पकड़ा जा सकता है क्योंकि इसके जो डॉक्यूमेंट है उसे बिल्कुल सही जानकारी दी गई है। 

kyc full form in hindi - केवाईसी फुल फॉर्म क्या होता है 

तो दोस्तों पर आप सभी लोगों ने जाना कि केवाईसी क्या हैं और ये हमारे लिए कितनी जरूरी होती है और आखिर उसको क्यों किया जाता है तो अब हम यहां पर जानेंगे की केवाईसी फुल फॉर्म इन हिंदी क्या होती है। यहाँ पर बहुत सारे ऐसे लोग हैं जो किसी शब्द का नाम तो रोज सुनते रहते हैं उनसे केवाईसी का फुल फॉर्म पूछा जाता है। तो उनको नहीं पता होता है। तो यहाँ पर kyc का full form "Know Your Customer" जिसका हिंदी में  सीधा मतलब होता है जो भी कस्टमर है उसके बारे में जानना कि वह कौन है। 

आप सभी लोगों को यह जानना भी बहुत जरूरी है कि केवाईसी की जो शुरुआत हुई थी। वह रिजर्व बैंक के द्वारा वर्ष 2002 में की गई थी और बाद में आते-आते 2004 में यह सभी बैंक के जितने भी यूजर हैं उन सभी के खातों की केवाईसी करना बहुत ही जरूरी बन गया। 

केवाईसी कितने प्रकार से होती है - kyc full form in hindi

kyc full form in hindi क्या यह तो आप सभी ने जान लिया है। तो अब यहां पर जो केवाईसी की जाती है आखिर वह कितने प्रकार से हो सकती है। जो किसी के प्रकार हैं वह दो हैं पहला है ऑफलाइन मोड दूसरा है और हम दोनों के बारे में जानेंगे कि आखिर किस तरीके से हम यहां पर अपनी kyc को पूरा कर सकते हैं। 

1. Online Kyc Mode 

ऑनलाइन केवाईसी एम वहीं पर करा सकते हैं यहां पर हमारे ई-कॉमर्स वेबसाइट चलता है और वहां पर हम अपने ट्रांजैक्शंस को करते रहते हैं। क्योंकि वहां पर उनके ऑफलाइन स्टोर ज्यादा नहीं होते हैं जिसकी वजह से यहां पर ऑनलाइन केवाईसी को चुना गया है। 

यहां पर ऑनलाइन केवाईसी हम कैसे करते हैं उसके बारे में भी आप पहचान लेते हैं यहां पर आपको ऑनलाइन केवाईसी कराने के लिए ज्यादा कुछ डॉक्यूमेंट की जरूरत नहीं होती है। अगर आपके पास पैन कार्ड या वोटर कार्ड है। उसके जरिए आपके यहां पर केवाईसी पूरी हो जाती है आपको बस अपना पैन कार्ड का फोटो खींच कर सबमिट करना होता है। उसके बाद आपको यहां पर कुछ डिटेल को भरकर जमा करना होता है उसके बाद आपके यहां पर kyc पूरा हो जाता है। 

2. Offline Kyc Mode 

जितनी भी बैंक होती हैं जहां पर आप अपना खाता खुलवाने के लिए जाते हैं या फिर ऑनलाइन फॉर्म आते हैं वहां पर आपको ऑफलाइन ही अपना केवाईसी कराना होता है। इसके लिए यहां पर आपको ज्यादा कुछ तो नहीं करना होता है लेकिन अगर आप यहां पर केवाईसी कराने जा रहे हैं। बैंक में तो आपको यहां पर पैन कार्ड और आधार कार्ड ले जाना होता है उसके बाद वहां पर वह सारी डिटेल को भर लेते हैं और आपका यहां पर केवाईसी पूरा कर दिया जाता है। ध्यान रखें जब तक आप यहां पर अपने पैन कार्ड और आधार कार्ड को नहीं ले जाते हैं तब तक आप का केवाईसी पर पूरा नहीं हो सकता है। 

KYC करवाने के लिए जरुरी DOCUMENTS

आप सभी लोगों को पता है कि भारत में सबसे ज्यादा लोग गांव से होते हैं तो यहां पर जो लोग गांव से होते हैं उन लोगों को केवाईसी के बारे में ज्यादा कुछ नहीं पता होता है। तो यहां पर कौन कौन से डॉक्यूमेंट को हमें ले जाना होता है केवाईसी कराने के लिए उसके बारे में जानना बहुत जरूरी है। आप यहां पर गलत कोई भी डॉक्यूमेंट को ले जाते हैं तो उसके बाद फिर वहां पर अपना केवाईसी नहीं हो पाता है। तो नीचे हम यहां पर आपको किस-किस डॉक्यूमेंट को ले जाना होता है उसके बारे में बताते हैं। 

  1. Aadhaar Card
  2. Voter Identity Card
  3. Pan Card
  4. Passport
  5. Narega Card
  6. Driving Licence
  7. बिजली का बिल
  8. पासपोर्ट
  9. राशन कार्ड
  10. बैंक अकाउंट स्टेटमेंट
  11. बैंक मेनेजर के हस्ताक्षर के साथ लैटर जिसमे आपका एड्रेस हो।

जो भी हमने आपको डॉक्यूमेंट बताए हैं ऊपर आप उन डॉक्यूमेंट को अगर ले जाते हैं कहीं पर भी तो आपका केवाईसी हो जाएगा। यहां पर आप किसी भी और डॉक्यूमेंट की बिल्कुल भी जरूरत पड़ने वाली नहीं है। 

KYC verification कराने में कितना समय लगता हैं

यहां पर गांव या फिर शहर से किसी को ऑनलाइन या फिर ऑफलाइन कर आते हैं तो वहां पर उनके केवाईसी अगर तुरंत वहां पर सक्सेसफुल लिखे नहीं आता है। तो उनको दिक्कत से होने लगती है उनको लगता है कि हमारे यहां पर केवाईसी सही तरीके से नहीं हुई है तो बता दो कि जब भी आपकी अपनी करवाते हैं। तो वहां पर कुछ दिन का समय भी लगता है जरूरी नहीं है कि आपकी जो केवाईसी है वह तुरंत के तुरंत हो जाए। यहां पर अधिकतम केवाईसी वेरीफिकेशन काम होता है होता है। वह 7 दिनों तक का होता है अगर आपका भी या 50 जनों से ज्यादा हो चुका है। तभी आप यहां पर चिंतित हो वैसे तो आफत केवाईसी जो है वह सभी की जल्द से जल्द हो जाती है। 

KYC करवाना क्यो जरुरी हैं?

केवाईसी क्या हैं : तो यहां पर केवाईसी कराना क्यों जरूरी है इसके बारे में हमने थोड़ा बहुत ऊपर बताया तो यहां पर अब आपको विस्तार के साथ हम आपको बताएंगे कि आखिर हमको केवाईसी क्यों कराना होता है। तो देखिए यहां पर जो लोग बड़े-बड़े होते हैं वह लोग यहां पर बड़े-बड़े पैसे का लेनदेन करते हैं और उसी लेन-देन में वहां पर गड़बड़ भी करते जिसकी खबर बैंकों को भी नहीं हो पाती है। 

कभी-कभी लोग यहां पर अपने गलत डॉक्यूमेंट को देकर अपना खाता खुलवा लेते थे और वहां पर अपना लेनदेन करते थे जिसकी खबर भी बैंकों नहीं हो पाती थी और यहां पर गवर्नमेंट को टैक्स में भी दिक्कत हो रही थी। 

जब से यहां पर केवाईसी आई है और आपने अभी तक कि वासियों को करवाया भी नहीं है आप सोचते हैं कि हम अपने खाते की कोई भी जानकारी यहां पर नहीं देंगे तो आपको यहां पर आगे मुसीबत भी हो सकती है। क्योंकि अगर आप यहां पर किसी भी Mutual Funds में Invest करते हैं तो वहां पर भी आपको केवाईसी कराना जरूरी है। क्योंकि अगर आप स्टॉक मार्केटिंग में काम करते हैं आप और पैसा भी कमा रहे हैं तो आपको बहुत जरूरी है। बिना kyc को कराये आप यहाँ पर कोई भी चीज़ का लेन दें नहीं कर पाओगे। 

Read More About :

NDA Full Form In Hindi

DNA full form in Hindi 

TRP full form in Hindi

IPL full form in Hindi

NCC Full Form In Hindi

Conclusion 

तो दोस्तों यहां पर हमें आपको बताया कि केवाईसी का आपकी जिंदगी में कितना बड़ा इंपॉर्टेंट हो चुका है अगर आप यहां पर अपने किसी भी अकाउंट को खुल जाते हैं। तो वहां पर केवाईसी करवाना बहुत जरूरी होता है इससे यह फायदा हुए कि जो भी आप लेनदेन करते हैं। उसमें कोई भी जालसाजी नहीं हो पाएगी यहां पर कोई भी धोखाधड़ी आपके साथ बिल्कुल नहीं हो सकती है। तो आप सभी लोगों ने यहां पर केवाईसी क्या है उसके बारे में जाना। 

यहां पर kyc full form in hindi क्या है। इस सभी के बारे में जाना यहां पर हमने आपको सारी चीजें बताइए कि आपको केवाईसी कैसे करानी होती है। यहां पर किस किस प्रकार से केवाईसी होती है हर चीज की यहां पर हमने आपको जानकारी दी है तो आप यहां पर किसी कराना चाहते हैं तो ऊपर बताए हुए तरीकों से करवा सकते हैं। 

Prashant Baghel

नमस्कार दोस्तों, मैं Prashant Baghel, worldtricks4u का Technical Author & Founder हूँ. Education की बात करूँ तो मैं एक IT Diploma (Polytechnic ) से कर रहा हु। मुझे नयी नयी Technology से सम्बंधित चीज़ों को सीखना और दूसरों को सिखाने में बड़ा मज़ा आता है। मेरी आपसे विनती है की आप लोग इसी तरह हमारा सहयोग देते रहिये और हम आपके लिए नईं-नईं जानकारी उपलब्ध करवाते रहेंगे. :) #We Worldtricks4u Team Support DIGITAL INDIA

Post a Comment

Previous Post Next Post