FSSAI full form in Hindi – History, Eligibility, license All Best Information

5/5 - (8 votes)

नमस्कार दोस्तों, आप सभी का worldtrick4u मे स्वागत है। आज इस आर्टिकल मे हम जानेंगे की  FSSAI full form in Hindi क्या होती है। आप ने जब भी कोई packed food खरीदा होगा तो उस पर FSSAI मार्क या FSSAI का logo जरूर देखा होगा तो आपके मन में सवाल आया होगा की ये FSSAI क्या होता है। FSSAI का full form क्या होता है। 

अगर आप भी जानना चाहते है की FSSAI full form in Hindi क्या होती है। तो आज का यह आर्टिकल आपके लिए है। FSSAI full form in Hindi के साथ आपको FSSAI की बहुत सी अन्य जानकारी भी आपको इस आर्टिकल मे दी जाएंगी। तो पूरा आर्टिकल जरूर पढे ,आइए शुरू करते है।

FSSAI Full Information In Hindi

FSSAI क्या है ? – FSSAI Full Information In Hindi 

FSSAI  एक ऐसी संस्था है जो पूरे देश के सभी लोगों को सुरक्षित और संपूर्ण आहार उपलब्ध करके उनके हेल्थ को अच्छा रखने के लिए बढ़ावा देती है और उनकी सेहत की रक्षा करती है । FSSAI यह भारत के Ministry of Health & Family Welfare, भारतीय सरकार के अंदर काम करती है। 

FSSAI आपकी फूड की safety Maintain करती है और Standard तय करती है की इससे ज्यादा इस फूड product मे ये चीज नहीं होनी चाहिए और कम से कम ये चीज होनी चाहिए। 

FSSAI की स्थापना कब हुई थी? FSSAI की स्थापना खाद्य सुरक्षा मानक अधिनियम साल 2006 मे किया गया था । 

FSSAI का उद्देश्य क्या है?  FSSAI सिर्फ एक ही उद्देश्य है food items के लिए विज्ञान पर आधारित मनको का निर्माण करना और food ingredient के manufacturing storage delivery sale आदि सभी चीजों को control करना है, जिससे Human consumption के लिए safe and complete food ingredient को provide करना है।

FSSAI का Headquarter कहाँ है? तो FSSAI का Headquarter New Delhi मे है।और काफी लोगों के दिमाग मे यह सवाल भी आता होगा कि भारत मे FSSAI के कितने Office है? तो  All India मे FSSAI के 8 office है जो की Delhi, Chandigarh, Lucknow, gohati, Mumbai, Kolkata chennai और kochin मे है। और इसकी पूरे देश मे 76 laboratory है।  

FSSAI full form in Hindi- FSSAI full form क्या होता है?

FSSAI full form in HindiFood Safety Standard Authority of India” होता है। FSSAI full form in Hindi को “भारत खाद्य सुरक्षा और मानक प्राधिकरण” भी कहा जाता है।

History of FSSAI In Hindi 

History of FSSAI In Hindi 

1916 में भारत सरकार ने पहली बार food  को regulate करने के लिए एक Law  के बारे में सोचा और इसी के लिए बाद में 1954 में Prevention of Food Adulteration Law पहला law बन गया था। जो खाने में मिलावट को रोकने के लिए law बनाया गया।

इसके बाद अलग अलग अलग अलग Ministries  ने अलग अलग फूड प्रोडक्ट जैसे milk, meat, fruit के ऊपर law बनाए। 

इन्ही सभी law को एक साथ रेगुलेट करने के लिए कंसोलिडेट करने के लिए 2006 में Food Safety and Standards Act बनाया गया। जिसके अंतर्गत बाद में 2008 मे Food Safety and Standard Authority of India (FSSAI) की स्थापना कि गई।

इसके rule regulation 2011 से follow किए गए और इसके structure में एक chairman होता है जिसमे 22 member होते हैं और इसका CEO गवर्नमेंट के द्वारा बनाया जाता है।

FSSAI का क्या काम है?

  • FSSAI भारत में रोजना बनने वाली सभी food items की quality और सुरक्षा की जांच व इस पर control रखता है।
  • FSSAI food सुरक्षा से जुडे़ सभी माप दंडों का निर्धारण करता है।
  • खाद्य परीक्षण के लिये प्रयोगशालाओं के certified होने की जांच भी यही करता है।
  • खाद्य संबधी होने वाली समस्याओं के आंकडो़ं का संग्रहण भी इसी ऐंजेंसी द्वारा किया जाता है।
  • भारत में खाद्य पदार्थों की खपत कितनी और किस तरह है इस पर FSSAI ही नजर रखता है।
  • खाद्य पदार्थों को प्रदूषण से बचा के रखने और उनका गुणवत्ता स्तर अच्छा करने हेतु जन हित में जागरूकता लाता है।
  • इस सभी कामों को करने के लिये ISO-17025 के अनचसार certified labs में दिशा -निर्देशन देना और guidelines बनाने का काम करता है।

FSSAI license क्या है

FSSAI license क्या है

यदि आप इंडिया मे Food Related Business शुरू करने की सोच रहे है तो इसके लिए आपको सबसे पहले ये लाइसेन्स लेना होता है। अगर आप Food से related खाने या पीने वाली चीजों का manufacturing करते है इसके लिए आपको food license बहुत जरूरी होता है।

FSSAI खाने वाली हर चीज के लिए license provide करता है जैसे की dairy product, vegetable product, meat product, salt, masala product, beverages product और अन्य खाने वाली सभी items  

अगर आप food का transport करते है तब भी आपको FSSAI का license लेना जरूरी होता है। इसके बिना आप food का business या transport नहीं कर सकते है।

वैसे तो भारत मे FSSAI license तीन प्रकार के होते है। और ये आपके सालाना turn over पर depend करता है।

  1. Basic license अगर आप की दुकान या लघु उद्योग की वार्षिक आमदनी 1200000 रुपए से कम है तो बेसिक कसाई लाइसेंस ले सकते हैं इस प्रकार के लाइसेंस की अवधि 1 वर्ष से 5 वर्ष के लिए होती है। 
  2. State license स्टेट फसाई लाइसेंस लाइसेंस की अवधि 1 साल से 5 साल की होती है अगर आपके उद्योग में 12 लाख से ज्यादा की कमाई होती है तो आप स्टेट लाइसेंस के लिए पंजीकरण यानी रजिस्ट्रेशन करा सकते हैं। 
  3. central license यह license उनके लिए है जिनकी आमदनी वर्ष मे 20 करोड़ से ज्यादा हो तो Online registration कर सकते है।

registration लेने का मतलब आप बाजार मे कोई भी food product हानिकारक नहीं उतार सकते है जिससे  जनता को खाने पीने के food items pure मिलते है। जिस seller के पास FSSAI का registration रहता है उसके प्रोडक्ट पर customer trust करते है।

Eligibility for license

Basic license पंजीकरण सभी खाद्य व्यवसायों और भंडारण, बिक्री, वितरण, रिपैकिंग और लेबलिंग जैसी संबंधित गतिविधियों के लिए लागू है, जिसके लिए वार्षिक कारोबार रुपये को पार नहीं करता है। 12 लाख या खाद्य व्यवसायों के लिए रु। 12 लाख सालाना।

State license के लिए आवेदन कर सकते हैं –

Restaurants and Hotels, Meat Processing Units and Slaughter Units, Dairy Units inclusive of Proprietary Foods, Milk Chilling Units, Vegetable Oil Processing Units as well as Production Units, Food Processing Units Contiguous Retailers और Repackers को भी सम्मिलित होती है

Central के लिए FSSAI लाइसेंस पात्रता

निम्नलिखित खाद्य व्यापार मालिकों को नियामक प्राधिकरण द्वारा FSSAI केंद्रीय लाइसेंस प्राप्त करने के लिए योग्य माना गया है –

5 सितारा होटल और ऊपर, राज्य लाइसेंस के लिए उल्लिखित खुदरा विक्रेताओं, वितरकों, आपूर्तिकर्ताओं और कैटरर्स को शामिल करने वाले सभी खाद्य व्यवसाय केंद्रीय लाइसेंस के लिए आवेदन कर सकते हैं यदि उनका संचालन बड़े पैमाने पर होता है। (~ 20 करोड से अधिक)

FSSAI के फायदे

  • जनता को शुद्ध खान पान मिलता है।
  • हानिकारक और जहरीले पदार्थ बाजार तक नहीं पहुंचते हैं।
  • FSSAI खान पान सुरक्षा और खाद्य नियमों के मापदंड की मुख्य और एक मात्र संस्था है
  • एक क्षेत्र में अलग-अलग प्रकार की खाद्य सामग्री के लिए एक ही लाइसेंस की जरूरत होती है।
  • किसी खाद पदार्थ के विक्रेता के पास लाइसेंस होने से उसके ग्राहक को उस पर उस पर विश्वास रहता है।
  • आमतौर पर FSSAI license पाने में दो या दो से अधिक महीने लग जाते हैं।

FSSAI की License या Registration की आवश्यकताएं

FSSAI यानी Food Safety and Standard Authority of India 2006 के अंदर अगर आप फूड का कोई भी बिजनेस करते हैं तो आपको लाइसेंस या रजिस्ट्रेशन लेना जरूरी होता है।

अगर आप ऐसा नहीं करते हैं तो आपको 5 लाख तक का जुर्माना लग सकता है और यहां तक कि आपको 6 महीने की जेल हो सकती है।

Food business यानि अगर आप Hawker है या तो कोई सामान बेचते हैं, Temporary stall है आपकी और आपका जो turnover है सालाना 12 लाख से कम है तो आप सिर्फ रजिस्ट्रेशन कराएंगे।

अगर आपका 12 लाख से ज्यादा turnover है और Petty food business मे नहीं आते हैं तब आपको license  बनवाने की जरूरत है।

Read More About :

CSE full form in engineering 

Useful ANM full form in Hindi 

DCP Full Form In Hindi

MBBS Full Form In Hindi

Conclusion

आज के आर्टिकल मे हमने जाना की FSSAI Full Form in Hindi क्या होती है और FSSAI क्या होता है? FSSAI Full Form in Hindi के साथ साथ ये भी जाना FSSAI Full Information, History of FSSAI, FSSAI license क्या है और FSSAI Full Form in Hindi से जुड़ी सभी बातें इस आर्टिकल मे बतायी गयी है। मुझे आशा है कि आपको यह आर्टिकल पसंद आया होगा। अगर पसंद आया है तो, अपने दोस्तों के साथ शेयर करना न भूले, शेयर जरूर करे धन्यवाद।

FAQ (Frequently Asked Question)

FSSAI मे जॉब के लिए अप्लाई कर सकते हैं या नहीं?

उम्मीदवार जो सरकारी नौकरियों की तलाश कर रहे हैं वे FSSAI मे नौकरियों के लिए आवेदन कर सकते हैं और भारतीय खाद्य सुरक्षा और मानक प्राधिकरण में शामिल होने के लिए लाभ ले सकते हैं।

FSSAI के सीईओ कौन है?

FSSAI के Chief Executive Officer (CEO) MR. Shri Arun Singhal है। 

FSSAI के बारे मे जानकारी कहाँ से मिलेगी?

FSSAI की सभी जानकारी आपको FSSAI की website https://www.fssai.gov.in पर मिल जाएगी।

Leave a Comment