HR Full Form in Hindi | HR क्या होता है | एच.आर की पूरी जानकारी

Rate this post

हैलो दोस्तों, आज के इस आर्टिकल हम जानेंगे की HR full form in hindi क्या होती है। आजकल हर युवा रोजगार की तलाश में जगह-जगह जाता है और बहुत से companies में नौकरी के लिए इंटरव्यू देता है।

किसी कंपनी में नौकरी पाने से पहले आपको आपका इंटरव्यू देना पड़ता है और यह इंटरव्यू HR के द्वारा लिया जाता है। और आपको कंपनी में नौकरी मिलती है या नहीं है यह काम भी मुख्य रूप से HR का ही होता है।

बहुत बार ऐसा होता है कि आप लोग HR नाम से वाकिफ तो होते हैं। पर इसकी सही जानकारी आपके पास नहीं होती जैसे Hr full form in hindi क्या होती है। HR की कार्यप्रणाली क्या है।  HR का की क्या जिम्मेदारी होती है HR की सैलरी क्या होती है और संकोच में कभी-कभी हम दूसरों से नहीं पूछ पाते हैं।

अगर ऐसा आपके साथ भी  है तो आज हम आपको HR kaise bane se संबंधित जानकारी विस्तार में बताने जा रहे हैं जानने के लिए आप हमारा पूरा लेख  ध्यान से पढ़ें। आइए शुरू करते है।

HR Full Form in Hindi (एच.आर की फुल फॉर्म क्या हैं)

जैसा कि हम बता चुके हैं कि HR के नाम से बहुत लोग वाकिफ होते हैं पर उनको उसका कोई full form नहीं पता होता इस वजह से हम कई बार परेशान हो जाते हैं इसलिए आगे बढ़ने से पहले हम यह जानते हैं कि HR Full Form in Hindi “Human Resource” होती है। इसको हिन्दी मे “माननीय संसाधन” कहा जाता है।

माननीय संसाधन सभी बड़ी कंपनियों में एचआर का एक समूह होता है एचआर ग्रुप का मुख्य काम नए लोगों की भर्ती करना कंपनी का प्रतिबंध करना और नए कर्मचारियों को दिया निर्देश देना होता है

HR kya hota hai? (HR क्या होता है)

किसी भी संगठन या कंपनी में लोगों को मैनेजमेंट, रीक्रूट्मन्ट तथा अन्य कार्य को संपन्न कराने में मुख्य भूमिका निभाता है प्रत्येक प्राइवेट संस्था में HR डिपार्टमेंट बनाया जाता है।

HR जिसे Human Resource कहते हैं इस शब्द का प्रयोग 1960 में पहली बार किया गया था इसके बाद किसी संगठन या संस्था में मानव संसाधन से संबंधित कार्य को ध्यान में रखकर कार्य किए जाते हैं इसकी मुख्य भूमिका कंपनी संस्था में मैनेजमेंट को संभालना और कार्य कर रहे कर्मचारियों के हितों का ध्यान रखना होता है कोई भी संस्था या कंपनी तभी सफल मानी जाती है जब लोगों को मैनेज कर के कंपनियां बेहतर काम करें।

HR विभाग कंपनी का सबसे महत्वपूर्ण विभाग माना जाता है कंपनी की पूर्ण सफलता एक HR पर निर्भर करती है HR किसी कंपनी या संस्था मे सभी कर्मचारियों को ट्रैनिंग देता है और उनके काम के अनुसार उनकी salary यानि वेतन decide करता है।

इसके अतिरिक्त HR द्वारा कंपनी में काम कर रहे कर्मचारियों को कंपनी का हिस्सा मानते हुए उनकी हर समस्या को सुना जाता है और उनका निवारण किया जाता है जिससे कि कर्मचारी बेहतर काम करें और ज्यादा लाभ कमाएं कोई भी सफल मानी जा सकती है जब वहां काम कर रहे कर्मचारियों को अच्छे से मैनेज किया जाए। इस प्रकार किसी भी संस्था या कंपनी में HR की महत्वपूर्ण भूमिका होती है।

HR की कार्यप्रणाली (Methodology of HR)

कुछ लोग HR विभाग में management  संभालने वाले लोगों को ही HR कहने लगते हैं जो कि गलत है। आप यह बात ध्यान रखे है कि इन्हें HR मैनेजर कहा जाता है और ये मैनेजर जो काम करते हैं ये ह्यूमन रिसोर्स मैनेजमेंट (human resource Management) के अंतर्गत आता है।

इसे एचआरएम कहा जाता है। जो की हमको हमारा लक्ष्य प्राप्त करने में मदद करते हैं। और HR डिपार्टमेंट इन सभी कार्यों पर नियंत्रण रखता है जिसकी कार्य प्रणाली इस प्रकार है।

  • Workers को ट्रेनिंग देना
  • Employees भर्ती करना
  • कर्मचारी वर्ग मे लागत की योजना
  • कर्मचारी लाख प्रशासन
  • समय का मैनिज्मन्ट करना
  • मजदूरी और वेतन डिसाइड करना
  • कर्मचारी वर्ग का प्रशासन
  • Evaluation करना
  • Travel management
  • Skills Management
  • काम का vision करना

HR kaise bane? (How to become HR)?

अगर आपकी HR बनने की इच्छा है तो यह जाना बहुत जरूरी है की HR बनने के लिए क्या योग्यता होनी चाहिए हम आपको बता दें कि HR बनने के लिए क्या मान्य योग्यता है और आप HR कैसे बन सकते हैं।

HR बनने के लिए आपको सबसे पहले 12 वीं कक्षा मे उत्तीर्ण होना अनिवार्य है 12वीं कक्षा पास करने के पश्चात आप Diploma in HR management या BBA in HR का कोर्स कर सकते हैं।

अगर आप 12वीं कक्षा उत्तीर्ण करने के बाद ऐसा कोर्स नहीं करना चाहते हैं तो आप के पास दूसरा विकल्प यह है कि आप ग्रेजुएशन पूरी करने के बाद भी एमबीए(MBA) इन एचआर, एमए (MA) इन एचआर  या पीजीडीएम (PGDM) इन एयरपोर्ट कोर्स आदि में से कोई भी पाठ्यक्रम चुन कर के HR बन सकते है।

HR की सैलरी क्या होती है (Salary of HR)

HR विभाग को कंपनी में सबसे महत्वपूर्ण विभाग माना जाता है इसलिए HR की सैलरी भी काफी अच्छी होगी पर HR का वेतन कितना होगा यह कंपनी की प्रतिष्ठता, उसकी भोगोलिक स्थिति पर कुछ हद तक निर्भर करता है।

उसकी योग्यता कार्य कुशलता पर भी निर्भर करता है फिर भी अगर अनुमानित करके बताएं तो HR को 20 हजार रुपए से 40 हजार रुपए प्रति महीने वेतन दिया जाता है किंतु भारत के किसी भी ग्रेड ए बिजनेस स्कूल से MBA करने के बाद सैलरी 1 से 1.5 लाख रुपए प्रति महीना भी हो सकती है।

सबसे खास बात यह है कि अगर HR के पद पर आपको कार्य करते हुए 5 वर्ष का अनुभव हो जाता है तो कंपनी आपको 20 लाख से लेकर 25 लाख रुपए सालाना तक की सैलरी प्रदान करती है।

HR की भूमिका (Works of HR)

जैसा कि हम सभी ने यह जाना कि HR का सीधा उद्देश्य कंपनी के कार्य में अपना महत्वपूर्ण योगदान देना होता है, कोई भी संस्था या कंपनी छोटी हो बड़ी हो HR की भूमिका अहम होती है। एक प्रभावशाली HR की भूमिका से कंपनी कई लाभ प्राप्त कर सकती है। एक कंपनी में HR काम क्या-क्या होते हैं आइए जानते हैं

  1. इंटरव्यू का समय निर्धारित करना

हर कंपनी में कई प्रकार के विभाग होते हैं और विभाग के लिए कर्मचारियों के नियुक्त किया जाता है, कर्मचारियों की नियुक्ति उनके इंटरव्यू के आधार पर होती है। अतः किस विभाग के कर्मचारी को किस समय इंटरव्यू देना होगा यह सब कंपनी का HR निर्धारित करता है।

  1. कर्मचारियों की नियुक्ति करना

किसी भी संस्था या कंपनी में कर्मचारियों की नियुक्ति से पहले उनका इंटरव्यू लिया जाता है और यह इंटरव्यू कंपनी का एचआर द्वारा किया जाता है HR द्वारा पूछे गए सवालों का सही उत्तर मिलते हैं तो वह कंपनी के लिए नया कर्मचारी नियुक्त करता है।

  1. कार्य नीतियों को ध्यान में रखना

हम कुछ भी काम करें उससे पहले एक नीति बनाते हैं ताकि जो लक्ष्य हम प्राप्त करना चाहते हैं वो लक्ष्य प्राप्त कर सके। ठीक उसी तरह कंपनी अपना लक्ष्य प्राप्त करने के लिए कुछ नीतियां बनाती है और यह नीतियां जैसे बनाई गई है उस तरह से काम हो रहा है या नहीं इसकी जिम्मेदारी भी एचआर की होती है।

  1. कंपनी दस्तावेजों को व्यवस्थित करना

किसी भी कंपनी के अपने महत्वपूर्ण कागजात होते हैं जिनका संरक्षण करना बहुत जरूरी है। अतः एचआर मैनेजर इंटरव्यू के दस्तावेजों के अलावा कंपनी के अन्य जो महत्वपूर्ण दस्तावेज है उनको भी व्यवस्थित रखता है।

  1. किसी भी कंपनी में कार्य कर रहे कर्मचारियों को कार्य के लिए प्रेरित करना

किसी भी कंपनी या संस्था की सफलता तभी संभव है जब वहां कार्य करने वाले कर्मचारी काम करने को उत्साहित हो और पूरी लगन से अपना काम करे इसके लिए HR समय-समय पर कर्मचारी को प्रोत्साहित करता है।

  1. कर्मचारियों के लिए परीक्षण कार्यक्रम आयोजित करना

जो कर्मचारी इंटरव्यू के बाद नियुक्त किए गए हैं उन सभी कर्मचारियों को ट्रेनिंग प्रदान कराना HR का काम होता है ताकि कंपनी को अधिक से अधिक लाभ हो सके।

Read More About:

IPL full form in Hindi 

NCC Full Form In Hindi

Kyc full form in hindi

IRCTC Full Form In Hindi

Conclusion

आज आपने इस आर्टिकल मे सीखा की HR Full Form in Hindi और इसी के साथ साथ HR क्या है HR kaise bane और HR की सैलरी कितनी होती है। HR से जुड़ी बहुत सी जानकारी इस आर्टिकल मे दी गई है।

इस आर्टिकल मे दी HR Full Form in Hindi से कोई प्रश्न है तो हमें नीचे दिए गए कमेन्ट बॉक्स मे जरूर बताए। मुझे आशा है की आपको आज का यह आर्टिकल पसंद आया होगा अगर पसंद आया है तो अपने दोस्तों के साथ शेयर जरूर करें, धन्यवाद।

Leave a Comment